शनि की साढ़ेसाती 2020

शनि की साढ़ेसाती 2020



शनि  29 वर्ष बाद 24 जनवरी  को स्वगृही राशि मकर राशि में प्रवेश करेंगे।24 जनवरी को सवेरे 9:52 पर  शनि धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करेंगे व 17 जनवरी 2023 तक मकर राशि में रहेंगे ,कुछ समय के लिए 29अप्रैल 2022 से 12 जुलाई 2022 तक कुंभ राशि में भ्रमण करेंगे।

शनि का स्व राशि में भ्रमण ज्योतिषीय दृष्टि से बेहद महत्व पूर्ण है ,हर राशि पर इसका प्रभाव दिखाई देगा।पर कुछ राशियों पर अधिक प्रभाव दिखाई देगा ।

शनि एक मंद गति से घूमने वाला ग्रह है ,शनि की यह साढ़े साती कई राशि के जातकों के लिए शुभ साबित होगी ,कुछ राशियों के लिए मध्यम रहेगी ।

वर्ष 2020 मै शनि की साढ़े साती से प्रभावित होने वाली राशियां -

धनु ,मकर  कुंभ राशि पूरे वर्ष शनि की साढ़ेसाती से प्रभावित रहेगी



वर्ष 2020 मै शनि की ढेय्या से प्रभावित होने वाली राशियां -

मिथुन व तुला राशि के जातक पूरे वर्ष शनि की ढेय्या से  प्रभावित रहेंगे।

धनु राशि

धनु राशि के जातकों पर शनि की साढ़ेसाती का आखिरी चरण रहेगा ,जो इस राशि के जातकों के लिए शुभ रहेगा,
व्यापार में सफलता,धन संपत्ति लाभ,लेकिन घरेलू जीवन में कुछ तनाव रह सकता है।

मकर राशि

साढ़ेसाती का दूसरा चरण मकर राशि के जातकों पर रहेगा जो अधिक परिश्रम करवाएगा ,भूमि व जायदाद संबंधित कोई विवाद हो सकता है।

कुंभ राशि

साढ़ेसाती का प्रथम चरण इस राशि के जातकों पर रहेगा ,मानसिक तनाव व चिंता रह सकती है ,अधिक परिश्रम व कम लाभ की स्थिति रहेगी।

शनि की ढेय्या से प्रभावित होने वाली राशियां

मिथुन राशि

ढेय्या का प्रभाव पूरे वर्ष इस राशि के जातकों पर रहेगा ,अती व्यय ,ग्रह क्लेश उच्च अधिकारियों से परेशानी व गलत निर्णय हो सकते है।

तुला राशि

शनि की ढेय्या का प्रभाव पूरे वर्ष रहेगा ,इस राशि के जातक लाभ की स्थिति में रहेंगे ,पदोन्नति ,व्यापार में सफलता,संतान संबंधित सुख ,मांगलिक कार्य व भूमि भवन सुख मिलेगा।

वृषभ राशि पर शनि की ढेय्या खत्म हो जाएगी

वृश्चिक राशि पर शनि की साढ़ेसाती उतर जाएगी।



शनि की साढ़ेसाती व ढैया के अशुभ प्रभाव से बचने के लिए निम्न उपाय अवश्य करे 

 • प्रत्येक शनिवार को तेल में मुंह देख कर छाया दान करे

 • दक्षिण मुखी हनुमान मंदिर में हनुमान चालीसा का पाठ करे

 • प्रत्येक शनिवार को पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाएं व दीप जलाएं ।

No comments:

Post a Comment