वास्तु अनुरूप रंग संयोजन

कोई भी मकान ,दुकान.office पूर्ण रूप से वास्तु सम्मत नहीं होता है ,सबसे ज्यादा यह समस्या फ्लैट्स मै , रहने वाले लोगो को आती है ,तोड़ फोड़ करके वास्तु दोष का निवारण एक महँगी प्रकिर्या है साथ ही कई जगहों पर संभव भी नहीं होती है ,ऐसे मै जन्म कुंडली व् राशि के अनुसार कुछ आतंरिक साज  सज्जा व् रंग संयोजन मै परिवर्तन कर बहुत हद तक वास्तु दोष कम  किया जा सकता है
यदि व्यक्ति का सिंह लग्न या सिंह राशि है तो तो सूर्य से प्रभावित होने से दीवारो ,furniture ,पर्दो का रंग golden yellow ,golden या चमकीली border या लाइट pink उपयोग करे
यदि कर्क राशि या कर्क लग्न है तो चन्द्र प्रधान व्यक्ति है तो दूधिया सफ़ेद ,मोतिया या silver color का अधिक उपयोग करे
मेष या वृश्चिक राशि है या लग्नेश मंगल है तो orange red या Cora red का प्रयोग करे
बुध से प्रभावित है या मिथुन या कन्या राशि है तो हरा रंग बहुत अनुकूलता देगा ,पैरेट ग्रीन,मूँगिया ,bottle green आदि रंगो का आन्तरिक साज़  सज्जा मै  अधिक प्रयोग करे
यदि गुरु तत्त्व व्यक्ति है या धनु या मीन राशि है तो पीले से सम्बंधित सभी shades उपयोग करे
लग्नेश शुक्र है या तुला या वृषभ राशि है तो चमकदार सफ़ेद ,क्रीम आदि रंगो का प्रयोग करे व् घर मै  कलात्मक व् कांच का अधिक प्रयोग करे ,कांच के बर्तनो का प्रयोग करे ,सफाई व् रोशनी भी अधिक रखे
शनि प्रधान है या मकर या कुम्भ राशि है तो नीले रंग के सभी शेड्स का अधिक प्रयोग करे
यदि राहु प्रधान है तो स्मोकी या चितकबरा रंग प्रयोग करे
केतु प्रधान है तो स्लेटी ,हल्का भूरा या brown रंगो का प्रयोग करे
राशि के अनुरूप रंग संयोजन करके घर की नकारत्मकता कुछ हद तक कम की जा सकती है ।

No comments:

Post a Comment